best popular Dialogues from bollywood movies in hindi

BOLLYWOOD DIALOGUES GUARANTEED TO MAKE YOU POPULAR


हिंदी फिल्म डॉयलोग्स

40+  ओल्ड मूवी पॉपुलर डायलॉग्स हिंदी में 



             
hindi film dialogue






डॉन का इंतज़ार तो ग्यारह मुल्कों की पुलिस कर रही है..,



डॉन को पकड़ना मुश्किल ही नहीं नामुमकिन है।



मुझे जंगली बिल्लियाँ पसंद हैं।. ,,





आज मेरे पास गाड़ी है, बांगला है, पैसा है, तुम्हारे पास क्या है ?,,






मैं आज भी फेंके हुए पैसे नहीं उठाता।




जिनके घर शीशे के होते हैं, वो बत्ती बुझा के कपडे बदलते हैं।






कुत्ते कमीने मैं तेरा ख़ून पी जाऊंगा।







रिश्ते में तो हम तुम्हारे बाप लगते हैं। नाम है शहंशाह।





.कौन कमबख्त बर्दाश्त को लिए पीता है ? मैं तो पीता हूँ कि बस सांस ले सकूं।






बाबूजी ने कहा गांव छोड़ दो, सब ने कहा पारो को छोड़ दो, पारो ने कहा शराब छोड़ दो, आज तुमने कह दिया हवेली छोड़ दो, एक दिन आएगा जब वो कहेंगे.. दुनिया ही छोड़ दो।







बड़े बड़े देशों में ऐसी छोटी छटी बातें होती रहती हैं।




मेरे बेटे आएंगे, मेरे कारन अर्जुन आएंगे, ज़मीन की छाती फाड़ के आएंगे, आसमान का सीना चीर के आएंगे।






एक बार जो मैंने कमिटमेंट कर दी, उसके बाद तो मैं ख़ुद की भी नहीं सुनता।



BOLLYWOOD DIALOGUES GUARANTEED TO MAKE YOU POPULAR



मैं जो बोलता हूँ वो मैं करता हूँ और मैं जो नहीं बोलता, वो मैं डेफिनेटली करता हूँ।





तारीख पे तारीख मिलती रहती है लेकिन इन्साफ नहीं मिलता। मिलते हैं तो सिर्फ तारीख।






बच्चा क़ाबिल बनो, काबिल.. कामयाबी तो साली झक मारके पीछे भागेगी।




हमको मिटा सके ये ज़माने में दम नहीं, हमसे ज़माना खुद है, ज़माने से हम नहीं।






थप्पड़ से ड़र नहीं लगता साहब.. प्यार से लगता है।





ये मुसलमान का खून, ये हिन्दू का खून.. बता इस में मुसलमान का कौन सा ? हिन्दू का कौन सा ? बता ? 





हम भले ही ऊपर वाले हो अलग-अलग नाम से पुकारते हैं, लेकिन हमारा धरम एक है, मज़हब एक है.. इंसानियत।





ऊपर वाला भी ऊपर से देखता होगा तो उसे शरम आती होगी, सोचता होगा मैंने सबसे खुबसूरत चीज़ बनाई थी, इंसान, इंसान.. नीचे देखा तो सब कीड़े बन गए.. कीड़े !!







कहते हैं अगर किसी चीज़ को दिल से चाहो तो पूरी कायनात उसे तुमसे मिलाने की कोशिश में लग जाती है।






इतनी शिद्दत से मैंने तुम्हें पाने की कोशिश की है कि हर ज़र्रे ने मुझे तुमसे मिलने की साज़िश की है।




जिनके घर शीशे के होते हैं वे दूसरों के घरों में पत्थर नहीं फेंका करते




यह ढाई किलो का हाथ किसी पर पड़ता है ना तो आदमी उठता नहीं उठ जाता है






बड़े-बड़े शहरों में छोटी-छोती बातें होती रहती हैं,,




हम जहां से खड़े होते हैं लाइन वहीं से लगती है।,,




यह पुलिस स्टेशन है तुम्हारे बाप का घर नहीं!,,




मर्द को दर्द नहीं होता..,,




डॉन के दुश्मनों की सबसे बड़ी गलती यह है कि वे डॉन के दुश्मन हैं।,,



हम सब इस रंगमंच की कठपुतलियां हैं जिसकी डोर ऊपर वाले हाथों में है।




मुझपे एक अहसान करना कि मुझ पर कोई एहसान न करना...





दूध मांगोगे तो खीर देंगे, कश्मीर मांगोगे तो चीर देंगे,,






हर इश्क़ का एक वक़्त होता है ... वह हमारा वक़्त नहीं था ... पर इसका यह मतलब नहीं की वह इश्क़ नहीं था



तेरी आँखों की नमकीन मस्तियाँ… तेरी हसी की बेपरवाह गुस्ताखियाँ… तेरी ज़ुल्फ़ों की लहराती अंगड़ाइयां… नहीं भूलूंगा मैं... जब तक है जान, जब तक है जान.





मेरे आँखों में देख के कहो ... कि तुम मुझसे प्यार नहीं करते




भगवान के घर में देर है ... अंधेर नहीं




घोडा घास से दोस्ती कर लेगा ... तो खाएगा क्या?





मेरी खामोशी को मेरी कमजोरी मत समझना





वक़्त से पहले और किस्मत से ज्यादा ... न किसी को मिला है न मिलेगा,,





सुबह का भूला शाम को घर लौट आये ... तो उसे भूला नहीं कहते




हर खूनी खून करने के बाद यही कहता है कि उसने खून नहीं किया,,





मोहब्बत और नफरत की जंग में ... जीत हमेशा मोहब्बत की होती है





जब इंसान को अपनी गलतियों का अहसास होता है ... तो भगवान भी उससे माफ़ कर देता है






जोह माँ बाप की इज़्ज़त नहीं करते ... उसकी दुनिया में कहीं पे भी इज़्ज़त नहीं होती





दुश्मन लाख बुरा चाहे तो क्या होता है ... वही होता है जोह मंजूरे खुद होता है





इश्क ने ग़ालिब निकम्मा कर दिया ... वरना हम भी आदमी थे काम के





सर झुका के जीने से बेहतर है की ... सर उठा के मारो



खुदा किसी को इतनी खुदाई न दे ... कि अपने सिवा कुछ दिखाई न दे





जब बाप का जूता बेटे के पाऊँ में आ जाए ... तोह वह बच्चा नहीं रहता





कुछ बातें ऐसी होती है जो कही नहीं जाती ... सिर्फ समझी जाती है





किस्मत खराब हो तोह ऊंट पे बैठे आदमी को भी कुत्ता काट लेता है





हम वह हैं जो पत्थर को कांच से तोड़ लिया करते हैं




जब इंसान को अपनी गलतियों का अहसास होता है ... तो भगवान भी उससे माफ़ कर देता है




कातीया अगर  मर्द बनने का इतना ही शौक है ना तो इन कुत्तो का सहारा लेना छोड़ दे ,,





best popular Dialogues from bollywood movies in hindi


Share this

Related Posts

Previous
Next Post »